Inspirational short stories about life

अगर आपकी भी लाइफ में रोज मुश्किलें आती है और आप भगवान् से बोलते की मुश्किलें काम करे तो शायद आप गलत कर रहे है।आज हम आपको एक स्टोरी के माध्यम(Inspirational short stories about life) से ये बताने जा रहे है की जो दुःख ,मुश्किलें आपको ऊपर वाला दे रहा है आपके भले के लिए दे रहा है।

inspirational short stories- हथोड़े की चोट

दोस्तों हमारी जिंदगी में बुरा समय हमारे द्वारा लिए गये फैसलों के कारण आता है। जिंदगी में आने वाली मुशीबते ही सफलता के रास्ते खोलती है लेकिन हम मुशीबतो को देखकर घबरा जाते है। डर जाते है। जिसके कारण हम कुछ ऐसे फैसले ले लेते है।

जो हमें आगे चलकर दुःख दे देते है। इन सब बातों को एक Motivational Story से अच्छे तरिके से समझते है। inspirational short stories about life

कहानी की शुरुआत

एक बार की बात है। एक मूर्तिकार एक जंगल से गुजर रहा था। रास्ते में उसकी नजर एक बहुत ही सुंदर पत्थर पर पड़ी। वह उस पत्थर के सामने रुक गया और सोचने लगा। इससे बहुत ही सुंदर मूर्ति बनेगी। Inspirational short stories about life


यह सोचते हुए उसने अपने थैले से सामान निकाला। वह अपने हथौड़े और छीनी से उस पत्थर पर वार ही करने वाला था।अचानक पत्थर से आवाज आयी, रुको मुझे छोड़ दो। तुम्हे आगे रास्ते में दुसरा पत्थर मिल जायेगा।


मूर्तिकार बहुत ही दयालु था। उसने बिना कोई सवाल किये अपना सामान उठाया और आगे बढ़ गया। वह जंगल में कुछ दूर ही गया था।उसे एक ओर पत्थर दिखाई दिया। वह पत्थर भी काफी विशाल और सुंदर था। मूर्तिकार वही रुक गया।

हमारे को फॉलो करना न भूले । अगर आपकी स्टोरी से लोगो को प्रेणा मिलती है हमें जरूर बेझे।

Apnistory.in


उसने अपने हथौड़े और छीनी से उस पर काम करना शुरु कर दिया। कुछ ही समय बाद उसने उस पत्थर की बहुत ही सुंदर मूर्ति बना दी। मूर्ति बनाने के बाद वह जंगल पार कर के एक गाँव पहुँच गया।

गाँव वालो ने उससे कहा – हमारे गाँव में एक नया मंदिर बना है। उसके लिए भगवान की एक मूर्ति बना दो।
मूर्तिकार ने कहा – मैंने अभी – अभी जंगल में एक मूर्ति बनाई है। तुम लोग उसे ले आओ। लोग जंगल में जाकर उस मूर्ति को ले आये और मंदिर में स्थापित कर दिया।


Also Read for Motivation-


मूर्ति स्थापित करने के बाद लोग बोले – हमें नारियल फोड़ने के लिए एक पत्थर ओर चाहिए। मूर्तिकार बोला – जंगल में एक पत्थर ओर है।मैंने उसे ऐसे ही छोड़ दिया था। तुम उसे ले आओ। कुछ लोग जाकर उस पत्थर को ले आये।


इस बात को ध्यान से समझो। वे दोनों पत्थर जो जंगल में थे।वे एक ही समय पर एक ही जगह आ गये। लेकिन एक पत्थर की पूजा हो रही थी और दूसरे पत्थर पर नारियल फोड़े जा रहे थे।


एक दिन जिस पत्थर पर नारियल फोड़े जा रहे थे। वह मूर्ति बने पत्थर से बोला – हम दोनों में क्या फर्क है। जिसके कारण तुम्हारी पूजा होती है और मुझ पर नारियल फोड़े जाते है।



मूर्ति बना पत्थर बोला – कोई फर्क नहीं है। फर्क सिर्फ हमारे द्वारा लिए गये फैसलों का है।
अगर उस दिन तुमने जंगल में मूर्तिकार का पहला वार सह लिया होता तो आज तुम्हारी भी मेरी तरह पूजा होती।

दोस्तों इस Motivational Story से मैं आपको यह समझाना चाहता हूँ की आपके द्वारा आज लिया गया फैसला ही आपके लिए भविष्य में अच्छा और बुरा समय लेकर आता है। इसलिए मुशीबत आने पर घबराओ नहीं।सोच समझकर ही फैसला लो क्योकि ये फैसला आपके आने वाले कल के बारे में बतायेगा।

हमें फॉलो करो रोज मोटिवेशन पाओ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *